एक्स व्हिडीओ इंग्लिश

आम्रपाली दुबेxxx

आम्रपाली दुबेxxx, और जैसे ही रमेश के होंठों ने निपल को अपने क़ब्ज़े में लिया रैया के हाथ रमेश के सर पे चले गये और उसके बालों को सहलाते हुए उसके सर को अपने उरोज़ पे दबाने लगे. रिया जब टवल लप्पेट कर बाथरूम से बाहर निकली तो उसके चेहरे पे एक निखार था बिल्कुल वैसे ही जैसे एक कली जब फूल बनती है तो देखने को मिलता है. चेहरे पे शर्म की लाली थी.

रघु को याद आया कि वो लड़का कैसे गुंजन के ऊपर चढ़ कर उससे चोद रहा था.. ये सोचते ही रघु नीलम के ऊपर आ गया। काजल की आंखे बंद होने लगी थी वो बस सिसकियां ले रही थी और उसका सर पकड़े हुए अपनी पेंटी के बीचों बीच फसी हुई योनि में उसका सर सरकने की कोशिस कर रही थी लेकिन ठाकुर अभी भी उसके जांघो में बिजी था ..

मेरे होठो में एक मुस्कान आ गई क्योकि काजल ने मेडम रश्मि बोला ही कुछ इस तरह जैसे वो इस बात को लेकर जलती हो … आम्रपाली दुबेxxx कोमल- अरे पागल अब यहीं देखेगी क्या चल हम लोग पीछे वाले गार्डेन में कहीं एक तरफ बैठ कर आराम से देखेगे.

सेक्सी वीडियो चुदाई की वीडियो

  1. उसके पास होने से ही मुझे अजीब सी शांति मिलती थी ,हम दोनो ही अभी अभी प्यार के दरिया में नहा कर निकले थे ,वो अब भी सोई हुई थी और बहुत प्यारी लग रही थी ,मैं उसके चहरे को ही देखे जा रहा था …
  2. जैसे ही हम दोनो की नजर मिली उसकी नजर नीचे हो गई थी वही हाल मेरा भी था,डॉ ने कुछ पेपर काजल के सामने कर दिए ,, लोकल सेक्सी लोकल सेक्सी
  3. बेला- नहीं आज इतना बहुत है..बहुत देर रही है। अब सेठ के घर भी जाना है, चल जल्दी कर कपड़े पहन ले, कहीं बिंदया ना आ जाए। मुझसे कब तक तुम लोग झूट बोलकर निशा को बचाने की कोशिस करोगे ..मैं जानता हु की उसने काजल को मारने की कोशिस की थी और तुझे भी …..कमरे में एक अजीब सा सन्नाटा पसर गया था …
  4. आम्रपाली दुबेxxx...उसका पूरा बदन सोनू के लगाए हुए हर धक्के के साथ हिल रहा था और जया अपने सर को इधर-उधर पटकते हुए मछली के जैसे तड़फ रही थी। ऐसी कोई बात नहीं लेकिन फिर भी मुझे लगता है की तुम्हे कितना दुख होता होगा , उससे अच्छा है कि दर्द का मजा लिया जाए
  5. निशा बहुत ही बेचैन और डरी हुई लग रही थी ,जैसे किसी लड़की के साथ जबरदस्ती की जा रही हो और वो एक कोने में सिमट कर बैठी हो ,वही हालत इस समय निशा की थी वो एक कोने में सिमट कर बैठी हुई थी ...और मुझे दूर रखने को कह रही थी , यह कह कर चन्डीमल नहाने के लिए चला गया और सोनू वहाँ पड़ा सामान बाहर निकालने लगा, जैसा कि चन्डीमल ने उससे बताया था।

जानवर का सेक्सी वीडियो ओपन

आज होटल में भी एक नई ऊर्जा के साथ पहुचा था,कुछ कर दिखाने का जस्बा जो होता है ना वो आपको सच में एक ऊर्जा से भर देता है...वो ऊर्जा आपके पूरे व्यक्तित्व में दिखाई देने लगती है….

ऋतु की गान्ड को अच्छी तरहा चाट ने के बाद रमण उसकी नितंब उपर उठाता है और उसकी चूत पे अपनी ज़ुबान फेरने लगता है. सुनीता ज़ोर से सिसक पड़ती है. उसके निपल से लहरें सीधा उसकी चूत पे आक्रमण कर रही थी, सुनीता की बेचैनी बढ़ जाती है, वो अपनी जांघों को आपस में रगड़ने लगती है.

आम्रपाली दुबेxxx,बेला ने अपने दामाद के मुँह से अपनी चूत के बारे में ऐसी बातें सुन कर चौंकते हुए कहा- आहह.. छोड़िए ना.. आपको मेरे बेटी की कसम.. आहह.. में.. में. उसके साथ धोखा नहीं कर सकती..।

रमेश रानी से अलग होता है और अपने सारे कपड़े उतार कर रानी के भी बचे कपड़े उतार कर उसे बिस्तर पे लिटा कर उसके उपर छा कर उसके निपल को चूसने लगता है. रानी के हाथ अपने आप रमेश के सर पे चले जाते हैं और उसके मुँह से सिसकियाँ निकलने लगती हैं. वो भी काफ़ी गरम हो चुकी थी और उसकी चूत भी कुलबलाने लगी थी.

ऋतु आँखें बंद रख अपने आनंद को समेट रही थी कि उसकी चीख रमण को अपने ख़यालों से बाहर ले आई थी, और वो फटाफट अपने कमरे की तरफ भाग पड़ा.ऋतु पता नही क्या क्या बोल रही थी, और रमण ने जैसे ही रवि का नाम उसके मुँह से सुना, वो चोंक पड़ा, कि कहीं, दोनो भाई बहन चुदाई तो नही करते.ससुर पतोह की सेक्सी वीडियो

'सुन बे देव मुझे नहीं पता की तुम दोनों के बीच क्या है पर मैं अब तेरी मालकिन हु और मुझे उन खान लोगो के होटल की वाट लगानी ही तू समझ जा ,बोल क्या प्लान है तेरे पास की सब ठीक हो जाये,'मैं फिर कुछ नहीं बोल पा रहा था ,वो मुझे गुस्से से देखि , जैसे ही रघु ने बोलने के लिए मुँह खोला तो उसके हिलते हुए गाल नीलम की चूत की फांकों पर रगड़ खा गए। नीलम एकदम से सिहर गई, उसके पूरे बदन में मस्ती की लहर दौड़ गई।

शबनम ने मेरे कानो के पास आकर बड़े ही मादक ढंग से कहा ,काजल का नाम सुनकर ही मेरा दिल जोरो से धड़कने लगा ,तभी एक लड़की जाम का प्याला एक ट्रे में लिए हमारे पास पहुची थी शायद इसे शबनम ने ही बुलाया था,मैं लगातार ही 4 पैक निगल गया,क्योकि मैं उस लड़की में काजल को देख रहा था..

जिस वक़्त ये लोग फ्लाइट से देल्ही पहुँचे तो एरपोर्ट पर विमल, कामया और सुनीता इनको रिसीव करने आए हुए थे. सब एक दूसरे से मिले और सुनीता की पारखी आँखों ने ऋतु की चाल में फरक को भाँप लिया.,आम्रपाली दुबेxxx जैसे ही दोनों के नज़रें मिलीं, बिंदया ने नज़रें झुका लीं और थाली को नीचे रख कर तेज़ी से कमरे से बाहर निकल गई।

News